Connect with us

Hope

हौंसले

Published

on

हौंसले की वाक्यांश बड़ी गंभीर है,
उन घुंघरूओं की तरह आवाज़ है इसकी,
जो शोर होने पर एहसास दिलाती,
कि गति तेरी अभी थमी नहीं है,
जितनी ऊर्जा है तुझमें बाकी अभी,
कई रास्तें तय करने होंगे तुझे ही।।

कोलाहल इसका अपार है,
हर एक छन छन से निकलता दृढ़ता का आकार है,
कभी ये होती शोभा घरों की,
तो कभी प्रतिबंधित होती उन चौबारों तक ही,
जहां हारा दुनिया का हर इक समाज है,
गलत जहां का पता है और सुकून भी वहां है।।

अंधकार में भी ये राह बताती,
कभी थिरकती तो कभी टूट जाती,
बांध लो फिरसे पांव में जो,
गूंज ही इसकी काफ़ी जो हमे राह दर्शाती।।

लाख उम्मीदों की खनक की भांति,
जीवन के हर ऋतु में इसकी कहानी,
दर्द भरे कुछ पहलू इसके,
आंसुओं में भी मन्न को मोह लेती।।

हर इक साज़ कहे अपनी ज़ुबानी,
जीवन को जीने कि ये रीत पुरानी,
बेबसी कभी तो कभी लाचारी,
संघर्ष में भी ये मांगे कुर्बानी।।

पर देखो इसके हौंसले,
ना टूटे ना बिखरे,
हर दफ़ा ये नया संगीत सुनाती,
हर संगीत इसकी महत्वाकांक्षा बतलाती,
इच्छाएं बहुत है ख्वाबों को पूरा करने की,
पर हर कीमत हौंसले के साथ ही आती।।

Jahnabee is an Independent working lady, Pet lovers, travel freak, music mind, culinary explorer, an extrovert and at the very core…a poet.

Continue Reading
2 Comments

2 Comments

  1. Rajadhiraj Nath

    January 26, 2021 at 2:35 PM

    Beautiful ❤️

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Like Us!