Connect with us

Hope

मंजिलें

Published

on

परिभाषा मंजिल की आसान नहीं,
बड़ी सहजता है इसके दर्पण में,
बदल जाते हैं पहलू उसके,
और यूंही हम एक ओर चलते रहते हैं।।

बात चाहें रिश्तो की हो या परमार्थ की,
नियंत्रित जो करें वह समय है,
बदल जाती है पहचान इंसान की,
तो ये कदम कहां ठहरना चाहते हैं।।

मंजिलें बदलती है, ढलती है,
पर सीमित नहीं रहती है,
भागते रहते हैं हम इसके पीछे,
और यह अपने मायने बदलती रहती है।।

कभी नई ऊंचाइयों को छूने की जिज्ञासा जगाएं,
तो कभी सुनहरे रिश्तो संग रहना चाहें,
ये‌ एक काल्पनिक वास्तविकता है,
जिसको हम सब जीना चाहें।।

क्यों पहुंचना है हमें वहां,
जिसका जवाब पता हो,
क्या खो नहीं सकते हम सब,
जैसा ख्यालों में सोचा हो।।

प्रभावित है बाहरी दुनिया से,
और खुश भी रहना चाहते हैं,
बनाई गई मंजिले समाज की,
पर उन्हीं को निभाना भी चाहते हैं।।

आक्रोश है मेरे दिल में,
यह कैसी दुविधा है,
होठों की हंसी के लिए भी,
क्यों मंजिलों को तकना है।।

क्या सफ़र का मूल नहीं,
सिर्फ़ परिणाम का इंतजार है,
जो ज़िंदगी सिखा रही हमें,
क्या वो सब बेज़ार है।।

कई सवाल जब मन में आए,
तो मंजिल ने मुस्कुराकर कहा,
मैं नहीं हूं स्थाई जो मिल जाऊं,
मैं एक दरिया हूं जो बहता जाऊं,
अगर मिल भी जाऊं तो नहीं रहूंगा,
और गर जो खो जाऊं तो बनके आस रहूंगा।।

Jahnabee is an Independent working lady, Pet lovers, travel freak, music mind, culinary explorer, an extrovert and at the very core…a poet.

Continue Reading
7 Comments

7 Comments

  1. Nikhil

    March 23, 2020 at 5:13 PM

    Very deep thoughts

  2. Suman kant jha

    March 24, 2020 at 6:41 PM

    Awesome set of skills.. you have the talent to connect to the ❤️ hearts. Artistic writing with lasting impact on soul’s journey called circle of life..

    • Jahnabee

      March 24, 2020 at 7:03 PM

      I think poetry belongs to all hearts..
      I would definitely continuing my work like this.☺️☺️

  3. Sanjeev

    April 1, 2020 at 10:40 AM

    Nice thought

  4. Ravinder kaur

    April 3, 2020 at 3:07 PM

    Manzile,i like it.Very deep emotions.

    • Jahnabee

      April 3, 2020 at 3:14 PM

      Thankew so much Ravinder ji ☺️

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Like Us!